Aug 7, 2018

Posted by in BUDDHISM IN OTHER LANGUAGES | 7 Comments

मेरी तजरुबा गुरुजी के साथ। (Hoài niệm về một lần cầu pháp tại Việt Nam)

आदरणीय गुरुजी, Tantra Hatari आप की बारेमे मेरे कोई भी जानकारी नही थी। मेरे पतिदेव जब मुझे वियतनाम जानेके लिए बोले तो मेरे मनमे एक अजीब सा कम्पन महसूस हुई। पता नही कितना दूर और कैसे देश, कैसे लोग?         हम जब जानेका फैसला किया तो टिकट भी बनालिया। फिर एक जरुरी काम से मुझे मुम्बई जाना पड़ा, तो मेने सोचलिया की वियतनाम प्रोग्राम कैंसल। मेने मुम्बई मैं और मेरे पतिदेव ओडिशा में। मैने जानेकी बिचार छोड़ दी, वक्त गुजरता गया ओर मेरे पतिदेव की विएतनाम जानेका समय नजदीक आने लगा।         21/07/2018 को मेरे मुम्बई का काम अचानक खत्म होगया और मेरी बेटी दामाद मुझे फ्लाइट में ओडिशा वेजडिये, क्यूं की मुझे विएतनाम जाना है। 22 तारीख को मैन विएतनाम मेरे पतिदेव के साथ चलपडी।          6 घण्टे की बिमान यात्रा और कुआला लुमपुर में 6 घंटे की बिराम के



Đối với bạn đọc:
Vui lòng đăng nhập để xem tiếp nội dung bài viết. (Danh sách bài cho bạn đọc chưa có tài khoản tại đây).

Existing Users Log In
   
DMCA.com Protection Status